Activities and Meetings Rajbhasha

 

बैठक विवरण-              दिनांक-26/06/2018

आज अपरान्ह 01:10 बजे ‘राजभाषा कार्यान्वयन समिति’ (राभाकास) की बैठक हुई | इस अवसर पर समिति के सचिव डा० उमाशंकर पाण्डेय ने सबका स्वागत करते हुए हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार के तरीके पर बल देते हुए कहा कि हमें केद्रीय विद्यालय संगठन एवं राज भाषा विभाग द्वारा निर्धारित लक्ष्य तक हर हाल में पहुँचना है | केन्द्रीय विद्यालय संगठन तिनसुकिया संभाग से प्राप्त राजभाषा सम्बन्धी पत्र द्वारा दिए गए निर्देशों की  विस्तार से चर्चा की तथा कहा कि  इसके लिए हमें जो प्रमुख कदम उठाने हैं, उनमें से कुछ इस प्रकार हैं---------

1- सत्र 2018-19 के लिए पूरे वर्ष भर आयोजित होने वाली गतिविधियों की कार्य सूची के अनुसार कार्यक्रम आयोजित किए जाएँ  |

2- हिंदी पखवाड़ा के अंतर्गत आयोजित होने वाली सभी गतिविधियाँ ऐसी हों, जिनके माध्यम से भाषा का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार संभव हो सके |

3- पूरे वर्ष भर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों के विजयी प्रतिभागियों का उत्साह वर्धन करते हुए उन्हें पुरस्कृत किया जाए |

4- भाषा के प्रचार-प्रसार के लिए विभिन्न कार्यशालाओं एवं कवि-सम्मेलनों का आयोजन किया जाए |

5- सभी कक्षाओं में विद्यार्थियों की भाषा में वर्तनी संबंधी अशुद्धियों को दूर करने के हर संभव कोशिश किए जाएँ |

6- बोर्ड कक्षाओं जैसे दसवीं एवं बारहवीं  के विद्यार्थियों की रचनात्मक प्रतिभा को निखारने के लिए विशेष अध्याय जैसे- पत्र, निबंध, अभिव्यक्ति एवं माध्यम से सम्बंधित प्रश्नों को हल करने का पूर्ण अभ्यास कराया जाए |

7- राजभाषा हिंदी के प्रचार-प्रसार हेतु हर संभव कोशिश  किया जाए |

8- हिंदी तिमाही रपट प्रत्येक तिमाही के पश्चात अगले माह की पाँचवीं तारीख तक सही आकड़ों के साथ क्षेत्रीय कार्यालय एवं नराकास कार्यालय को प्रेषित किए जाएँ |

9- विद्यालय में प्रयोग किए जाने वाले सभी फार्म हिंदी अथवा द्विभाषी रूप में

तैयार करने के पश्चात ही प्रयोग किए जाएँ |

10- सेवा-पंजिका में सभी प्रविष्टियाँ हिंदी में ही की जाएँ तथा उसमें लगने वाले रबर-मोहर भी हिंदी अथवा द्विभाषी ही प्रयोग में लाए जाएँ |

11- विद्यालय में प्रयुक्त सभी नामपट्टी द्विभाषी होने चाहिए | इसके लिए पहले राजभाषा का प्रयोग करें फिर अन्य भाषा का |

12- कम्प्यूटर प्रभारी उपलब्ध सभी कम्प्यूटरों में यूनिकोड सक्रिय करवाएँ तथा कार्यालय के सभी कार्मिक यूनिकोड के प्रयोग में दक्ष होने चाहिए |

13- राजभाषा कार्यान्वयन समिति का समयानुसार बैठक आयोजित किया जाए  तथा निर्धारित लक्ष्यों को पूरा करने का प्रयास किया जाए |

14- वर्ष में पुस्तकालय के लिए क्रय की जाने वाली पुस्तकों में संदर्भ साहित्य को छोड़कर शेष बजट का 50% खर्च हिंदी की पुस्तकों की खरीद पर की जाए |

15- राजभाषा विभाग द्वारा निर्धारित लक्ष्य को पूरा करने के लिए निर्देशानुसार हिंदी पत्राचार बढ़ाने का हर संभव प्रयास किया जाए |

16- हिंदी पत्रिकाओं का प्रकाशन सुनिश्चित करते समय यह ध्यान दिया जाए कि हिंदी के पृष्ठों की संख्या ज्यादा हो तथा उन्हें पहले मुद्रित करवाया जाए |

17- राजभाषा विभाग के निर्देशों के अनुसार सभी कर्मचारी एवं अधिकारी स्वयं से सम्बन्धित निर्देशों का पूर्णतया पालन सुनिश्चित करें ताकि विभाग द्वारा दिए गए विन्दुओं का अनुपालन सुनिश्चित हो सके |

अंत में समिति के अध्यक्ष एवं प्राचार्य श्री राजीब दास ने भाषा के क्रियान्वयन की समीक्षा की और धन्यवाद के साथ बैठक की कार्यवाही समाप्त की  गई |

क्रम

नाम पदाधिकारी

पद

1-

श्री राजीब दास, प्राचार्य

अध्यक्ष

2-

डॉ. गणेश कुमार, स्नातकोत्तर शिक्षक (जीव विज्ञान)

उपाध्यक्ष

3-

डॉ. उमाशंकर पाण्डेय, स्नातकोत्तर शिक्षक (हिंदी)

सचिव

4-

श्री आर.एन.सिंह, स्नातकोत्तर शिक्षक (वाणिज्य)

सदस्य

5-

श्री इरफ़ान अहमद, स्नातकोत्तर शिक्षक (भौतिक विज्ञान)

सदस्य

6-

श्रीमती तूलिका मोहन गोगोई, प्रधान अध्यपिका

सदस्य

7-

श्री ज्योतिष दास, कनिष्ठ सचिवालय सहायक

सदस्य

8-

श्री जयलाल शाह, सब स्टॉफ

सदस्य

राभाकास बैठक एवं गठन २०१७-१८ की जानकारी के लिए इस पर क्लिक करें

भास् बैठक अप्रैल २०१८-१९ की जानकारी के लिए इस पर क्लिक करें